50 वर्ष बाद  इंदिरा जी की प्रतिमा का अनावरण राहुल  ने किया 
रवीन्द्र व्यास 

महोबा // 
 बुंदेलखंड की बदहाली और सूखा के दर्द को समझने आये कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के इस पड़ाव में एक भावुक क्षण भी आया । जब वे यहां के मुडारी गाँव पहुंचे , जहां के गाँव वाले 50 वर्ष से इंदिरा गांधी की प्रतिमा को सहेजे रखे थे , गाँव वालों की जिद थी की प्रतिमा का अनावरण गांधी परिवार का ही कोई करेगा । राहुल के पहुँचने से यह जिद पूर्ण हुई । 
                                               मुंडारी गाँव के 95 वर्षीय छवि लाल पुरोहित बताते हैं की ,1962 के भारत -चीन युद्ध के दौरान  गाँव वालों ने इंदिरा गांधी का  चांदी से तुलादान किया था । महिलाओं ने अपने जेवर भी इस तुलादान में अर्पित किये थे । यह सब गाँव वालों ने इस लिए किया था ताकि  युद्ध में देश के लिए धन की कमी नहीं आये । 1962 में जबइंदिरा गांधी का तुला दान हुआ था उस समय उनका वजन ५८ किलो था  जब की यहाँ के लोगों ने ६५ किलो चांदी चढ़ाई थी । तुलादान के बाद ही इंदिरागांधी की प्रतिमा बनाने का निर्णय हुआ था जो १९६५ में बनकर तैयार हुई ।  तब गाँव वालों ने  तय किया था का प्रतिमा का अनावरण  गांधी परिवार का ही कोई सदस्य करेगा । आज तक कोई नहीं था जिस कारण प्रतिमा का अनावरण नहीं हो पाया , आज राहुल गांधी आये तो उन्होंने प्रतिमा का अनावरण किया । 
                पुरोहित जी से राहुल गांधी ने भी हाल चाल पूंछा , राहुल गांधी ने यहां दिए अपने भाषण में कहा की गाँव वालों ने हमारी दादी के प्रति जो सम्मान और स्नेह रखा है , में आप सब का नमन करता हूँ । 
               पुरोहित जी की यादों में 1962 का वह दृश्य घूमने लगा और आँखों से बहने लगी अश्रु की धारा ।  वे कहने लगे गाँव ने सदैव कांग्रेस को अपना माना किन्तु कांग्रेस ने कभी इस गाँव की सुध नहीं ली ।  
एक टिप्पणी भेजें

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जनसंख्या नियंत्रण हेतु सामाजिक उपाय आवश्यक

गुफरान की हिम्मत और हिमाकत

Bundelkhand Dayri_Bunkar