संदेश

August, 2013 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

उमर अब्दुल्ला की सरकार कर रही है पाक के मंसूबो को पूरा : उमा भारती

किश्तवाड़ की घटना के लिए वहां की सरकार  दोषी
सरकार के संरक्षण में दंगाईयो ने वहां पर हिन्दुओ पर हमला बोला है सरकार स्वयं वहां पर हिन्दू जो अल्प संख्यक हें उनकी घेराबंदी कर उनकी हत्याए करवा रही है  काश्मीर से धारा ३७० का जो विशेष  अधिकार है वो हटाना पड़ेगा  उमर अब्दुल्ला की सरकार ही  पाकिस्तान के मंसूबों को पूरा कर रही है  छतरपुर/एम. पी. / 12 अगस्त  आज बीज़े.पी. की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष उमा भारती बी. जे. .पी. कार्यकर्तायो के प्रशिक्षण वर्ग में सम्मलित होने  आई । इस मौके पर पत्रकारों से चर्चा करते हुए उन्होंने _ किश्तवाड़ की घटना के लिए वहां की सरकार को दोषी ठहराते हुए कहा की सरकार अपने पाप छुपाना चाहती /सरकार के संरक्षण में दंगाईयो ने वहां पर हिन्दुओ पर हमला बोला है , वहां पर जो जानकारिय मीडिया के माध्यम से मिली की उसमे वहां के मंत्री भी उसमे अगवाई कर रहे थे / इसलिए  उमर   अब्दुल्ला ने अपने पाप को छुपाने के लिए अरुण जेटली को रोका और पूरी दुनिया के सामने हकीकत को सामने नहीं आने दे रहे हें । लेकिन काश्मीर की घटना से एक बात स्पष्ट  हो गई है की काश्मीर से धारा ३७० का जो विशेष  अधिकार है वो हटाना…
चित्र
 भक्ति मार्ग में ही निहित है सुख, शांति और समृद्धि- पं. तरुण चौबे महाराज // इन दिनों बुंदेलखंड इलाके में भक्ति की अनोखी गंगा प्रवाहित हो रही है , हर कहीं यज्ञ -हवंन -पूजन और का सिलसिला चल रहा है , दुखो और मानसिक अशांति से त्रस्त जन भक्ति के इस सरोवर में सुख, शांति और समृद्धि-   की तलाश करते हें । यही तो हिंदुस्तान की वह शक्ति है जो उसे संतोष का भाव प्रदान करती है / मध्य प्रदेश के छतरपुर आये गृहस्थ संत तरुण चौबे जी कहते हें कि _दिनचर्या की शुरूआत अपने आराध्य की स्तुति और पूजा-अर्चना के साथ तो लोग करते हैं और यह कामना भी करते हें  कि उनके साथ-साथ दूसरों का भी भला हो, लेकिन शायद यह याद नहीं रख पाते कि भक्ति का ही इस श्रृष्टि में एक ऐसा मार्ग है जिससे सुख, समृद्धि और शांति का मार्ग प्रशस्त होता है।  आडम्बरों से पूरी तरह दूर सहज सरल गृहस्थ संत पं. तरुण चौबे महाराज स्थानीय मेला जलबिहार मैदान में चल रहे 6 दिवसीय रुद्र महायज्ञ, पार्थिव शिवलिंग निर्माण एवं महारुद्राभिषेक अनुष्ठान के चौथे दिन सैकड़ों श्रद्धालुओं के मध्य  यह उद्गार व्यक्त करते  हुए  कहा कि सेवा व्यापक शब्द है। बच्चे माता-पिता की, भ…