संदेश

2012 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

Favourite videos (playlist)

चित्र

Lalu K Kulhadलालू के कुल्हड़ .wmv

चित्र

Ankho-Ka-Katl आँखों का क़त्ल (1).wmv

चित्र

Ankho-Ka-Katl आँखों का क़त्ल(2).wmv

चित्र

Ankho-Ka-Katl(3)आँखों का क़त्ल -3.wmv

चित्र

Ankho-Ka-Katl(4)आँखों का क़त्ल -4.wmv

चित्र

Ankho-Ka-Katl (5).आँखों का क़त्ल -5wmv

चित्र

Moti Manka

चित्र

National Park Panna

चित्र

Khajuraho- Marig

चित्र

Womens Hospital

चित्र
चित्र
जिनने साठ  साल कुछ नहीं किया वो हम  से सवाल पूंछते हें =शिवराज सिंह 
छतरपुर /  आज से ठीक चार  साल पहले आज ही के दिन  हुए मतदान में मतदाताओं ने शिवराज को पुनः मुख्य मंत्री चुना था । आज के इस दिन ही बुंदेलखंड के नेता वा पूर्व मंत्री सुनील नायक की ह्त्या हुई थी । आज के इस ऐतहासिक दिन के समय मुख्य मंत्री शिवराज सिंह ने बुंदेलखंड की धरा पर केंद्र सरकार के खिलाफ अपनी आवाज बुलंद कर , जनता से बीजेपी की सरकार के लिए समर्थन की अपील भी कर दी । उन्होने सवाल किया की जिनने 60 साल में कुछ नहीं किया वो शिवराज से सवाल पूछते हे ।
शिवराज सिंह मंगलवार खजुराहो के समीप राजनगर के सती माता मंदिर के प्रांगण में  आयोजित खंड स्तरीय अन्त्योदय मेला के कार्यक्रम में जन सभा को संबोधित कर रहे थे । उन्होने केंद्र सरकार पर  पहला निशाना बुंदेलखंड के विकाश के बहाने लगाया , उन्होने कहा की हमने तो छतरपुर में विश्व विद्यालय की, नोगांव में  घोषणा कर दी है  । इसके लिए बजट भी तय कर दिया है किन्तु केंद्र सरकार के गृह मंत्रालय में विश्व विदालय का मसला लंबित है ., इसी तरह नोगाँव के इजीनियरिंग कालेज की स्वीकृति भारत सरकार के इ,आई,सी…
चित्र
मोनिया नृत्य और दिवारी गीतों के सिमित होते स्वर  रवीन्द्र व्यास   कहते हैं विन्ध्य पर्वत मालाओंओ से घिरा  बुंदेलखंड का  यह अंचल वैसे   तो  अपने अभावों  और बदहाली के कारण जाना जाता है ।  इस बदहाल इलाके में ऐसी  कई परम्परा  और  और लोक साहित्य है जो  यहाँ की  अपनी एक अलग पहचान बनाता है ।पर काल के गर्त में धीरे- धीरे  ये परम्पराएं  समाप्त होती जा रहीं हें ।  ऐसी  ही एक परम्परा है  दिवारी गीत और नृत्य । दिवाली के दूसरे  दिन जहां इनके  ये दल हर गली और नुक्कड़ पर दिख जाते थे अब सिमित होते जा रहे हें । दिवारी  गीत  मूलतः चरागाही  संस्कृति के गीत ह़े , यही कारण है  की इन गीतों में  जीवन  का यथार्थ मिलता है । फिर चाहे  वह सामाजिकता हो,या धार्मिकता , अथवा श्रृंगार  या  जीवन का दर्शन । ये वे  गीत हें जिनमे  सिर्फ  जीवन की वास्तविकता के रंग हें ,  बनावटी  दुनिया से दूर , सिर्फ चारागाही संस्कृति  का प्रतिबिम्ब । अधिकाँश गीत  निति और दर्शन के हें । ओज से परिपूर्ण इन गीतों में विविध रसों की अभिव्यक्ति मिलती है ।  दिवारी गीत दिवाली  के दूसरे  दिन  उस समय गाये जाते हें जब  मोनिया मौन व्रत रख कर गाँव- गाँव …

भाई ने भाई को जिन्दा जलाया

मध्य प्रदेश के  छतरपुर  जिले के दालोन  गाँव में  रिश्ते के भाइयों ने भाई को ही ज़िंदा जला दिया । पुलिस  ने इस मामले में दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है जब की दो अब भी फरार हें । ज़िंदा जलाने के पीछे कोई बड़ी वजह भी नहीं है मात्र घर के सामने बनी झोपड़ी की प्लास्टिक की पन्नी भाई के घर से छू रही थी ।
 सिविल लाइन थाना इलाके के दालोन  गाँव में   चार कलयुगी  भाइयों भरत सिंह , मंगल सिंह , कारन सिंह और उदल सिंह ने मिलकर अपने ही भाई वीरेंद्र सिंह को ज़िंदा जला दिया । आर्थिक रूप से संम्पन्न ये भाई अपने ही घर के सामने बनी  छोटे भाई की झोपड़ी  को बर्दास्त नहीं कर पा रहे थे । उस पर झोपड़ी की   पन्नी ने जब इनकी दीवाल को छू लिया तो इनका गुस्सा सातवे आसमान पर पहुँच गया । नाराज भाइयों ने मिलकर पहले अपने छोटे भाई की जम कर लाठी -डंडों से  पिटाई की , इस पर भी जब गुस्सा शांत नहीं हुआ तो उस पर मिटटी का तेल डाल कर ज़िंदा जला दिया ।
 सिविल लाइन पुलिस के जांच अधिकारी आर .एल', नापित ने बताया की घटना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस  ने तीस  वर्षीय  वीरेन्द्र  सिंह को जली हुई दशा में जिला अस्पताल में इलाज के लिए भ…

छतरपुर जिले में १७१ स्कूल शिक्षक विहीन

छतरपुर /जिले के  के 131 मिडिल और 40 प्राइमरी स्कूलों में शिक्षक नहीं, हें } जिले के दर्जनों मिडिल और प्राइमरी स्कूल इन दिनों शिक्षक विहीन हैं। जब की शहर के आसपास के स्कूलों में शिक्षकों की भरमार है।  इस सबके बीच जिले के ग्रामीण क्षेत्रों के काफी स्कूल अतिथि शिक्षकों के भरोसे चल रहे हैं। एजुकेशन पोर्टल पर दर्ज जानकारी के अनुसार  40 प्राइमरी स्कूलों में शिक्षक नहीं हैं। जबकि जिले में कुल 1968 प्राइमरी स्कूल संचालित हैं। 
 जिले में सबसे बदतर हालत मिडिल स्कूलों की है।  697 मिडिल स्कूल जिले में संचालित हैं। इनमें से 131 स्कूल शिक्षक विहीन हैं। इसके४ अतिरिक्त 9 मिडिल स्कूल ऐसे हैं, जहां पर हेड मास्टर तो पदस्थ हैं, लेकिन अन्य शिक्षकों की पदस्थापना नहीं होने से अतिथि शिक्षकों से काम चलाना पड़ रहा है। हालत यह है कि मिडिल स्कूल कंदैला-चंदला में 410 छात्र हैं। वहां पर 13 शिक्षकों को पदस्थ होना चाहिए, लेकिन कोई भी शिक्षक पदस्थ नहीं है। है। ये है छतरपुर जिले में शिक्षा के अधिकार का  जलवा  | अब छतरपुर कलेक्टर को भी शिक्षा की सुध आई है  उन्होने  कहा है की जिले  में सभी स्कूलों में कम से कम एक स्थायी …

छतरपुर जिले में 5471 बच्चे अति कुपोषित

छतरपुर  जिले में 5471 बच्चे  अति कुपोषित  छतरपुर /  जिले में 5471 बच्चे अति कम वजन के पाए गए है।जिले में लगभग ढाई हजार परिवारों के साढ़े पांच हजार बच्चे अतिकुपोषित की श्रेणी में हैं। ये हाल  तब है जब प्रदेश के साथ साथ जिले में अटल मिशन चल रहा है |  सर्वेक्षण में ये बात सामने आई है की जिले के अधिकाँश आंगनवाडी केन्द्रों पर पोषण आहार के नाम पर बच्चों के साथ मजाक किया गया है |  शहर से ही दस किलो मीटर दूर  बछरोनिया गाँव में तो महीनो से आंगन वाडी में पोषण आहार और यहाँ के स्कूल में मध्यान भोजन नहीं बटा | अब स्वयं ही अंदाजा लगाया जा सकता है की दूर दराज के गांवों की दशा क्या होगी | अब ज़िलामहिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा किए गए सर्वे में जिले में 5471 बच्चे अति कम वजन के पाए गए है | इस स्थिति को देख कर ज़िला प्रशासन अब जाग्रत हुआ है | सोमवार को कलेक्टर ने बैठक कर कहा की  इन बच्चों को कुपोषण से मुक्त करने एवं परिवारों की आय बढ़ाने के लिये उन्हें जिले के सभी विभाग शासकीय योजनाओं से लाभंावित करें|जिला पंचायत सीईअे श्रीमती भावना वालिम्बे ने कहा कि इसे हम चुनौती के रूप में स्वीकार कर रहे हं,ै इन परिव…

कांग्रेस का हाथ अब किसके साथ ?

ये यू.पी.ए. सरकार है  जिसका मुख्य घटक कांग्रेस है ,जिसका मुख्य नारा है कांग्रेस का हाथ आम आदमी के साथ _ और अब लगता है ये हाथ आम आदमी के साथ नहीं बल्की आम आदमी की गरदान का नाप लेने तक साथ है _ , ऐसी कांग्रेस और सरकार के  मुखिया हें मनमोहन सिंह , वे इन दिनों काफी व्यस्त हें ,उनके पास अब जनता के मन को मोहने का वक्त नहीं है | असल में वे किसी दूसरे का मन मोहने में व्यस्त हें | सोनिया जी का मन मोहा तो प्रधान मंत्री बन गए  ,अब वे देश की जगह  दुनिया के बडे रंग दार का मन मोहने में जुट गए हें , अब जाने वे क्या बन जायेंगे ? घोटालों::कॉमनवेल्थ गेम्स घोटाला, टूजी स्पेक्ट्रम घोटाला और कोयला खदान आवंटन घोटाला, इन सभी घोटालों  की आग से जल रहे देश में उन्होने एसा डीजल और जलने  वाली गैस फेंकी - की देश का हर आदमी बेचेन हो उठा | इससे भी वे संतुस्ट नहीं हुए तो गाँधी के सपनो को धता बता कर ऍफ़.डी.आई. की मंजूरी दे दी | ये सब कुछ उन्होने किया  गाँधी परिवार के आशीर्वाद और मल्टी नॅशनल कम्पनियों के बल से | कहते हें की इन्ही के बल बूते पर ही इनका दल देश का सबसे बड़ा पूंजी पति दल है | कई दलों के समर्थन पर टिकी उनकी …

एक छोटे से गाँव से उठाई बच्चों ने अधिकारों की आवाज

चित्र
बच्चों की ग्राम सभा :

रवीन्द्रव्यास 
बुंदेलखंड का यह इलाका  वह बदनसीब इलाका है जो दोहरी गुलामी का शिकार रहा जिसका असर आजादी के ६५ साल बाद भी देखने को मिल जाता है | एसे ही इलाके  के छतरपुर जिले के  एक छोटे से गाँव पनागर के स्कूली बच्चों ने आजादी दिवस के एक दिन पूर्व एक अनोखी बाल ग्राम सभा लगा डाली |  जिसमे मासूम बच्चों ने देश के ४० फीसदी बच्चों के अधिकारों की आवाज उठा कर हर किसी को सोचने पर मजबूर कर दिया | सभा में उठाये बच्चों के सवालों के जबाब वहां मोजूद गुरु जानो और पंचों के पास भी नहीं थे |  सुबह से ही गाँव में उत्साह का वातावरण बच्चों में था | हर बालक स्कूल पहुँचने की जल्दी में था | आखिर  स्कूल के मैदान में उनकी सभा जो होना थी | बच्चे  जुटे शिक्षक  और पंच भी जुट गए | बच्चों ने मंच पर पहुँच कर  सवाल करना शुरू किये _ आखिर हमारा क्या दोष है जिसके कारण शिक्षक पढाई नहीं कराते  और हाफ टाइम के बाद गायब हो जाते हें ? स्कूल में गन्दगी पड़ी रहती है , सफाई नहीं होती , पीने के पानी की व्यवस्था नहीं है , शोचालय तो बन गए किन्तु उनमे फाटक नहीं , खेल का कोई सामान नहीं ? बच्चों के इन सवालों पर जब गा…

पुलिस प्रतारणा से मौत मामले में एक को सजा तीन बरी ए.एस.पी. और टी.आई.पर कार्यावाही की सिफारिश

रवीन्द्र व्यास   मध्य प्रदेश में छतरपुर कोर्ट का फैसला आज  सदेव याद रखा जाएगा | कोर्ट ने पुलिस के अनुसन्धान  और विवेचना की कार्यावाही पर सवालिया निशान लगा दिया है | ७९ पेज के फैसले में   कोर्ट ने दोषी विवेचना अधिकारियों के विरुद्ध कार्यवाही की भी सिफारिश की है | पुलिस प्रतारणा के कारण दो सगी बहनों ( दीपांजलि और पुष्पांजलि ) ने मई २०१० में आत्म ह्त्या की थी | आज  छतरपुर कोर्ट में  ड़ी.जे. विमल जैन ने इस मामले में सजा सुनाई _ आरक्षक अरविन्द पटेल को दस साल की कैद और 9 हजार रु. जुर्माना(| तीन अन्य पुलिस कर्मी  प्रवीण त्रिपाठी , दिनेश  सिंह, और कन्हया लाल  को बरी कर दिया गया है |  अनुसन्धान में गंभीर त्रुटी पाते हुए  , एडिसनल एस,पी. सुनील तिवारी और तत्कालीन टी.आई. आर.के रावत के विरुद्ध कार्यावाही की सिफारिश की गई है | ज़िला एवं सत्र न्यायाधीश विमल जैन ने आज जब  यह फैसला सुनाया कोर्ट में बड़ी संख्या में लोग मोजूद थे | हर किसी को इस बहु चर्चित मामले के फैसले का इन्तजार था |  शासकीय  अधिवक्ता  राकेश शुक्ल ने बताया की विद्वान् न्याधीश ने  आरक्षक अरविन्द पटेल को ३०६ में १० साल  ३५४ में एक स…

पत्रकार के भाई को फंसाने की जांच एसडीओपी करेंगे

छतरपुर/ पुलिस का कहर पत्रकारों पर बा दस्तूर जारी है |  पुलिस अधीक्षक शियास ए. ने आश्वासन दिया है कि सरवई में पत्रकार के भाई के विरुद्ध दर्ज किए गए मामले की जांच खजुराहो एसडीओपी से कराई जाएगी। सरवई थाना प्रभारी के खिलाफ पत्रकारों के एक प्रतिनिधि मंडल ने बुधवार को एसपी से इस आशय की लिखित शिकायत कर निष्पक्ष जांच कराने की मांग उठाई थी। एसपी ने तत्काल सरवई थाना प्रभारी से फोन पर बात कर पूरे मामले की जानकारी ली और केस डायरी खजुराहो एसडीओपी के पास भेजने की निर्देश दिए।  पुलिस अधीक्षक को सौंपी शिकायत में बताया गया है कि सरवई में 2/3 अगस्त की रात दो अलग-अलग वारदातों में कुछ नगदी व जेवरात चोरी हो गए थे। पुलिस ने संदेह के आधार पर लारा कुशवाहा को हिरासत में लेकर पूछताछ की थी लेकिन उसने चोरी से साफ इंकार करते हुए कहा था कि वह रामनरेश उर्फ लक्कू शुक्ला के साथ घटना की रात 9 बजे अपने घर चला गया था। मामले का खुलासा न होने के बावजूद थाना प्रभारी जीडी वर्मा ने दोनों पर बेरहमी से जुल्म ढाते हुए शांतिभंग के आरोप में सीआरपीसी की धारा 151 के तहत गिरफ्तारी दिखाकर लवकुशनगर भेज दिया था जहां से वे जमानत पर रिहा …

बफरजोन मामले में मुख्यमंत्री से मिले कृषि राज्यमंत्री

बफरजोन मामले में मुख्यमंत्री से मिले कृषि राज्यमंत्री   पन्ना टाईगर रिजर्व क्षेत्र के लिए बफरजोन का मुददा गर्माता जा रहा है |  इसके लिए प्रस्तावित लगभग 1700 वर्ग किलो मीटर के क्षेत्र में रूंज बांध परियोजना का भी कुछ क्षेत्र शामिल है। इसके बफरजोन में शामिल हो जाने से प्रस्तावित बांध परियोजना का कार्य प्रभावित होगा। राज्यमंत्री कृषि तथा लोक सेवा प्रबंधन विभाग  बृजेन्द्र प्रताप सिंह ने मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान से भंेट करके प्रस्तावित बफरजोन से रूंज बांध क्षेत्र की 13.5 वर्ग किलो मीटर क्षेत्र को पृथक करने का अनुरोध किया है। उन्होंने इस संबंध में वन मंत्री तथा जल संसाधन मंत्री को भी स्थितियों से अवगत कराया है। 
परियोजना की जानकारी तथा बफरजोन से बांध क्षेत्र को अलग रखने का अनुरोध करते हुए उन्होंने कहा है कि रूंज बांध परियोजना में 269.70 करोड रूपये की लागत है। इससे अजयगढ़ विकासखण्ड के 36 गांव की 12550 हेक्टेयर भूमि में सिंचाई होगी। कई बार प्रयास के बाद शासन ने हाल ही में इस परियोजना को मंजूरी दी है। यह परियोजना अजयगढ़ क्षेत्र के किसानों के लिए वरदान साबित होगी। इसके क्षेत्र को बफरजोन में…

बैंक हैकर ने खाते से ट्रांसफर किये 50 हजार रूपये

बैंक हैकर ने खाते से ट्रांसफर किये 50 हजार रूपये छतरपुर /  भारतीय स्टेट बैंक छतरपुर  की कृषि विकास शाखा के एक खाताधारक के ऑन लाईन खाते से  हैकर ने पचास हजार रूपये की हैकिंग करते हुये अपने खाते में पचास हजार रूपये ट्रांसफर कर लिये। घटना बुधबार की सुबह लगभग साढे नौ बजे की है। खाताधारक को अपने खाते से पचास हजार रूपये की जानकारी मोबाईल एसएमएस से जैसे लगी वैसे ही खाताधारक ने एसबीआई की मुख्य शाखा में पहुंचकर तत्काल हैकर के खाते को सीज करवाया और इसकी सूचना पुलिस अधीक्षक को लिखित रूप में दी गई |जिस पर थाना कोतवाली सब इंसपेक्टर दीपक यादव ने इसकी विवेचना प्रारम्भ कर दी है।  बैंक में  खाताधारक रवि गुप्ता   का बचत खाता संचालित है जिस पर  इंटर नेट बैकिंग सुविधा संचालित है। आईएनबी के जरिये हैकर ने खाताधारक का यूजर नेम, यूजर पासवर्ड तथा प्रोफाईल पासवर्ड हैक करते हुये खाताधारक के खाते में असीम अनवर खान नामक व्यक्ति का खाता जोडा और उस खाते में खाताधारक के खाते से पचास हजार रूपये ट्रांसफर कर लिये।असीम अनबर खान का खाता भारतीय स्टेट बैंक की शाखा कुरला बेस्ट ब्रांच मुम्बई में संचालित है और उस खाते में पचास …

खजुराहो में एड्स का खोफ

खजुराहो में एड्स का खोफ
छतरपुर/अगस्त १२,
जिले में एड्स के  खतरे से इनकार नहीं किया जा सकता | यह कहना जिले के सी.एम.एच.ओ. डॉ. के.के.चतुर्वेदी का |  उन्होने इसके प्रमुख कारण भी बताये | उनका कहना है की जिले में निकले नॅशनल हाइवे, खजुरहो , और  बिजावर वा कंचनपुर जैसे कुछ इलाके इसकी बड़ी वजह है |
 डॉ. चतुर्वेदी के अनुसार खजुराहो में हर साल लगभग एक लाख विदेशी  और दो लाख के करीब देशी टूरिस्ट आता है | इनके लिए एड्स के टेस्ट की कोई व्यवस्था नहीं है | हालांकि विदेशी टूरिस्ट का जब वीसा बनता है तभी एच.आई.वी.टेस्ट हो जाता है | वे कहते हें की एच.आई.वी. के नियंत्रण का एक मात्र तरीका है सुरक्षा | हम इसके लिए  खजुराहो के पांच सितारा होटल वालों से संपर्क करेंगे  ताकि हर होटल में  होटल मालिक  कंडोम मशीन लगवाए | वेशे इस तरह की मशीन खजुराहो के मुख्य चौराहे पर भी लगवाई जाना चाहिए | ताकि लोग बिनी किसी संकोच के कंडोम आसानी से ले सकें | किसी भी पर्यटक स्थल के लिए इस तरह की सुरक्षा जरुरी है |
खजुराहो में इसकी जरुरत के पीछे वे कहते हें की  यह सिर्फ खजुराहो के लिए ही जरुरी नहीं है इसके लिए  हमे जिले बिजावर के बह…

लुटेरे गाड़ी में भरकर लूट ले गए गैस सिलेंडर

लुटेरे गाड़ी में भरकर लूट ले गए गैस सिलेंडर  छतरपुर/13/7/12/-छतरपुर से १०० किलो मीटर दूर  बक्स्वाहा कस्बे में एक एसी लूट की वारदात हुई की जिसने भी सुना हैरान रह गया | मुख्य मार्ग पर गैस एजेंसी से लुटेरों ने गैस सिलेंडर गाड़ी में भरकर चम्पत हो गए | पुलिस को सुबह साड़े सात बजे सूचना मिलने के बाद भी पुलिस ११ बजे पहुंची | 
 बक्स्वाहा की कृतार्थ गैस एजेंसी के मालिक  राजू कुदरया ने बताया की  गोदाम पर  आज सुबह दो-तीन बजे के लगभग  लुटेरों ने धावा बोला | वे अपनी गाडी लेकर आये , गोदाम का टाला तोड़ा और ४०३  गैस सिलेंडर गाड़ी में भरकर चम्पत हो गए | सबेरे -सबेरे  ही इसकी सूचना  पुलिस को भी दी | सूचना मिलने के बाद पुलिस एक किलो मीटर का फासला तय करने में तीन घंटे का समय लगा |   पुलिस के टी.आई.योगेन्द्र कुमार नायक ने बताया की मामला दर्ज कर लिया है उनका   दावा है की वे अपराधियों को जल्द पकड़ लेंगे |
 छतरपुर के प्रमुख छात्र नेता निशांत का कहना है पिछले कुछ समय से छतरपुर जिले में कानून और व्यवस्था की स्थिति बदहाल हुई है , बक्स्वाहा की घटना भी अपराधियों के बुलंद हौसले की कहानी  ही कहते हें | 
भेंस के आगे …

Fwd: प्रभात झा पर १० करोड़ के मानहानि का दावा ठोका :: अजय सिंह

चित्र
प्रभात झा पर १० करोड़ के मानहानि का दावा ठोका :: अजय सिंह 
छतरपुर/  मध्य प्रदेश  बी.जे.पी.के प्रदेश अध्यक्ष प्रभात झा पर , कांग्रेस के नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने दस करोड़ के मानहानि का दावा किया है | सिंह ने यह बात आज छतरपुर के सर्किट हाउस में आयोजित पत्रकार वार्ता में कही |  वे अपनी जनचेतना यात्रा के साथ छतरपुर आये थे | पत्रकारों के सवालों के जबाब देते हुए उन्होने कहा ,प्रभात डेंजर ने दसमलव ००६ हेक्टयेर  जमीन पर कब्जा की गलत शिकायत अनुसूचित जाती जनजाति आयोग में  की थी |  यात्रा शुरू होने  के एक दिन पहले  मेने प्रभात झा के खिलाफ उसी  आयोग में  गलत  दस्तावेज देने पर शिकायत  की है | थाने में ऍफ़.आई.दर्ज करने की प्रार्थना की है | और मानहानि का दावा भी दस करोड़ का ठोक दिया है > केस भी उन पर करूंगा और प्रभात डेंजर को छोडूंगा नहीं जब तक वो बिहार ना चला जाये | दरअसल प्रभात झा ने  अजय सिंह पर सीधी जिले में एक दलित की जमीन हड़पने का आरोप लगाया था |  अजय सिंह ने प्रदेश की बी.जे.पी. सरकार और शिवराज सरकार पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाते हुए  कहा की किसान परेशान है , अधिकारी मनमानी पर उतारू है |  खनिज …

मध्य प्रदेश में माफिया राज

मध्य प्रदेश में माफिया राज 
आई.पी.एस.\की ह्त्या   (रवीन्द्र व्यास)रंगों का त्यौहार और  मध्य प्रदेश के ग्वालियर संभाग के मुरेना में खनिज माफियाओं ने खेली खून की होली |   नौजवानआईपीएस. अधिकारी नरेंद्र कुमार सिंह की ट्रैक्टर से कुचल कर हत्या कर दी गई।मध्य प्रदेश और देश  में माफिया राज की यह कोई पहली वारदात नहीं है | मुरैना  जिले के बामौर कस्बे में अवैध खनन में शामिल खनिज माफिया ने होली के दिन  नौजवान पुलिस अधिकारी को  ट्रैक्टर  से कुचलकर मार डाला।
साल 2009 बैच के आईपीएस नरेंद्र कुमार सिंह मुरैना जिले के बामौर में प्रशिक्षु एसडीपीओ के तौर पर लगभग ४५ दिन पूर्व ही  तैनात हुए  थे। वह अपने ड्राइवर और गनर के साथ बामौर के दौरे पर थे |
 वे  उस इलाके में थे जहाँ  पत्थर की  कई अवैध खदानें है जिनमें आदेशों के विपरीत खुदाई होती रहती है|.  इसी दौरान उन्हे  पत्थरों से भरी एक ट्रैक्टर ट्रॉली  दिखी , जिसे देखकर उसे रोकने की कोशिश की, लेकिन ड्राइवर टैक्टर ट्रॉली लेकर भागने लगा।  जब ट्रैक्टर ड्राइवर भाग रहा था तभी सिंह ने उसका पीछा किया। उन्होंने सड़क के बीच खड़े होकर ट्रैक्टर को रोकने की कोशिश की, लेकिन इस …

अनकही

किसे सुनाऊं हाले गम 
पिछले कुछ दिनों में बुंदेलखंड इलाके के कई नेताओं  से मिलने का समय  मिला | कुछ देश दुनिया का दर्द सब को बेचैन किये था |  कुछ उनकी सुनी कुछ अपनी सुनाई ,चर्चा चलती रही |  सब कुछ एसा लग रहा था मानो देश के इनसे बडे शुभ चिन्तक कहीं हें ही नहीं | उनके अन्दर झांकने का जब हमने कुछ प्रयाश किया तो उनका दर्द बाहर निकल ही आया | कहने लगे क्या बताएं प्रदेश में सरकार तो हमारी है किन्तु कोई सुनने वाला ही नहीं है | इलाके में तो अधिकारियों ने लूट मार मचा रखी है | पुलिस को क्या कहें ये तो डकेतों की पर्याय हो गई है |  मुख्य मंत्री को भी बताया की यदि हालत यही रहे तो लोगों का विशवास टूट जाएगा , और तीसरी बार सरकार बनाने का सपना चकना चूर हो जाएगा | मुख्य मंत्री जी सुन तो लेते हें पर करते कुछ नहीं हें | अब तो हमे भी लगने लगा है की उमा भारती की बी.जे.पी. में वापसी के बाद से शिवराज को बुंदेलखंड के तीन जिलों( छतरपुर,पन्ना,और टीकमगढ़) से कोई मतलब नहीं रह गया है | वे यहाँ एसे अधिकारी भेज रहे हें जो हम लोगों की कम कांग्रेसियों की ज्यादा सुनते हें | बात चली थी भ्रष्टाचार से की सत्ता धारी नेता किस त…

खजुराहो के शिल्प ने खूब लुभाया पर्यटकों को

चित्र
खजुराहो के शिल्प ने खूब लुभाया पर्यटकों को 
खजुराहो /रवीन्द्र व्यास / खजुराहो दुनिया में अपने आप में एक एसा स्थान है जिसका किसी से मुकाबला नहीं किया जा सकता है |  यहाँ के मंदिरों में जीवन की फिलोअस्फी छिपी है  | दुनिया के किसी भी मंदिर या दूसरे स्थानों पर आपको सिर्फ एक पहलू नजर आयेगा पर यहाँ आपको  धर्म, अध्यात्म, योग , भोग  जिंदगी का दर्शन सभी कुछ देखने को मिलेगा | यही  कारण है की खजुराहो के इन मंदिरों को देखने के लिए देश दुनिया से रिकार्ड संख्या में  पर्यटक आये | इस बार जो  पर्यटक आये उनने अब तक के सारे रिकार्ड तोड़ दिए |                                                                    खजुराहो के भारतीय पुरातत्व के प्रमुख राहुल तिवारी ने बतया की   खजुराहो  के मंदिरों को इस बार 97356  विदेशी  और  2 लाख 53 हजार  544  भारतीय पर्यटकों ने खजुराहो के मंदिरों को देखा | खजुराहो के इतिहास  में अब तक का ये सबसे बड़ा रिकार्ड है |  2010  में 234954  भारतीय  और 90721  विदेशी  पर्यटकों ने  दुनिया की इस अनुपम कला को देखा |     पिछले एक दशक में देखा जाये तो  इस दशक की शुरुआत  पर्यटकों की संख्या में ग…

खबर दर खबर

चित्र
काली लड़कियां से  कैसे कराएं नृत्य  खजुराहो में नस्ल भेद   का अनोखा मामला सामने आया है | यहाँ काले-गोरे का भेद करके मुंबई से बुलाए गए लोक नृत्य कलाकारों को भगा दिया गया । यहां के कंदारिया शिल्पग्राम में दिन-रात रिहर्सल करने के बाद कलाकारों में से लड़कियों के काले होने का आरोप लगाया गया। परेशान कलाकारों ने थाने में शिकायत दर्ज कराई है। ये कलाकार  लोकनृत्य के लिए किए गए अनुबंध के अनुसार कंदरिया शिल्पग्राम में आए थे। पर इयहां पर उनके साथ काले-गोरे का भेद करते हुए उन्हें सुबह ४ बजे ही निकाल दिया गया था। कंदरिया शिल्पग्राम के डांस प्रोग्राम के मैनेजर ई. डिमेलो ने नृत्य के लिए ६ लड़के और ६ लडकियां बुलाई थीं। इस पर वे लोग आ गए और रिहर्सल भी किया। इसके बाद कहने लगे कि अब उन्हें ६ लड़की और ४ लड़के चाहिए हैं। इसके साथ ही एक लड़की को काली लड़की कहकर वापस भेजने के लिए कहा। इस पर पूरे ग्रुप ने ही काम करने से मना कर दिया तो मैनेजर डिमेलो ने उन लोगों को बाहर का रास्ता दिखा दिया।  हालांकि मामला पुलिस थाने तक पहुँच गया पर समरथ को नहीं दोष गुसाईं की युक्ति ही यहाँ चरितार्थ होती दिखती है | कंदरिया शिल्प ग्…