संदेश

2011 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

कुबेर का कुआँ

कुआँ  (कूप) /  लोगों की प्यास  बुझाने वाले कुआँ की कहानी भी कितनी अजीब है  | पहले कुआँ खुदवाकर लोग पुण्य कमाते थे | राजा अपनी प्रजा के लिए कुँए खुदवाते थे , ताकि उसकी प्रजा प्यासी ना रहे | लोग जब घर से निकलते थे तो अपने सामान के साथ लोटा ,डोरिया साथ रखते थे ताकि किसी कुँए पर अपनी प्यास बुझा सकें | दुनिया में कुआँ के महत्त्व का अंदाज इसी बात से लगाया जा सकता है  की कुँए को लेकर कई तरह की कहावतें समाज में प्रचलित हें |  बुंदेलखंड में एक इलाका है नोगांव यहाँ अंग्रेजों का पोलिटिकल एजेंट रहता था , उसने भी इस इलाके में कई कुँए बनवाये |  समय बदला देश आजाद हो गया जनसेवक का तमगा लगा कर लोग देश चलाने लगे | पर उनका व्यवहार क्रूर राजा की तरह हो गया ठीक वेसे ही जैसे अंग्रेजो और लुटेरे मुगलों का रहा | दान धर्म से इन्हे भला क्या वास्ता ये तो स्वयं को भगवान् मानने लगे | इनकी दिलचस्पी पानी वाले कुआँ से ज्यादा तेल वाले कुँए के लिए हो गई | जनता जनार्दन की प्यास बुझाने के लिए इन्होने धरती के सीने पर अनगिनत छेद करवा दिए| बापू का नाम ले-ले कर गाँव में पंचायतें बनवा दी | पंचायतों को पंच  परमेश्वर के हवाले कर …

चीन की दादागिरी पर भारत का दमदार जबाब

चीन की दादागिरी पर भारत का दमदार जबाब 
रवीन्द्र व्यास
भारत ने काफी समय बाद कुटनेतिक तरीके से अपने पडोसी चीन को उसकी तस्वीर दिखाई है | भारत ने वियतनाम  के साथ तेल खोज के करार पर काम करना शुरू किया है | वह भी उस इलाके में जिस पर  चीन अपना दावा जताता है | तेल और प्राक्रतिक गेस का  यह  भण्डार दरअसल वियतनाम का इलाका है | तेल के पीछे चीन हर हाल में इस पर अपना कब्जा ज़माना चाहता है |  दरअसल पिछले कुछ समय से  चीन ने भारत की घेरा बंदी शुरू की है , कूटनैतिक और सामरिक रण निति के तहत उसने  पहले पाकिस्तान को बल प्रदान किया ,  परमाणु  बम्ब बनाने में उसकी मदद की , यहाँ तक की उसका परमाणु परीक्षण भी अपने यहाँ करवाया | इसके पाक अधिकृत काश्मीर जो भारत का अभिन्न अंग है में सड़क ,रेल मार्ग और बाँध का निर्माण शुरू किया | जब की यह इलाका पाक गैर कानूनी तरीके से कब्जाए है | और एसे इलाके में किसी तीसरे देस जेसे चीन द्वारा कुछ भी करना अंतरास्ट्रीय कानूनों का उल्लंघन है | पाक के बाद चीन ने भारत के सबसे करीबी नेपाल में घुश पैठ की , वहाँ  आज के हालात में चीन का सबसे ज्यादा दखल माना जाता है | इसके बाद चीन ने श्री लंक…

बुंदेलखंड के सूर्य मंदिर

चित्र
बुंदेलखंड के सूर्य मंदिर रवीन्द्र व्यास  बुंदेलखंड इलाके में सृष्टी के देवता सूर्य के पूजन के अनेकों दुर्लभ प्रमाण मिलते हें | जो यह बताते हें की यहाँ के लोग अनादि काल  से सूर्य की पूजा करते आ रहे हें | और यही वह इलाका है जहाँ ज्योतिषाचार्य  वराहमिहिर ने  विश्व प्रसिद्द सूर्य सिद्धांत की रचना की थी  | भविष्य पुराण की माने तो कालपी के निकट यमुना के तट भगवान् श्री कृष्ण के पुत्र साम्ब ने सूर्य उपासना करके कुष्ट रोग से मुक्ति पाई थी | वैदिक काल से ही भारत में सूर्योपासना का प्रचलन रहा है.पहले यह सूर्योपासना मंत्रों से होती थी.बाद में मूर्ति पूजा का प्रचलन हुआ तो सूर्य मन्दिरों का निर्माण हुआ..अनेक पुराणों में यह लेख भी मिलता है,कि ऋषि दुर्वासा के शाप से कुष्ठ रोग ग्रस्त श्री कृष्ण पुत्र साम्ब ने सूर्य की आराधना कर इस भयंकर रोग से मुक्ति पायी थी.प्राचीन काल में भगवान सूर्य के अनेक मन्दिर भारत में बने हुए थे.उनमे आज तो कुछ विश्व प्रसिद्ध हैं देश में बने लगभग १४० सूर्य मंदिरों में यदि किसी इलाके में ये सवाधिक हें तो वह है बुंदेलखंड |.वैदिक साहित्य में ही नही आयुर्वेद,ज्योतिष,हस्तरेखा शास्त्रों…

अन्ना प्रकरण / जन से बड़ी नहीं हो सकती कोई संस्था

चित्र
रवीन्द्र व्यास इन दिनों देश में जिस की सरकार है देखा जाये तो वह दोहरे मुखोटे वाली सरकार है | जिसका दिखाने का मुखोटा अलग है और करने का अलग | जिसे  लोकतांत्रिक व्यवस्था में यकीन करने वाली नहीं बल्की राजतांत्रिक व्यवस्था वाली सरकार कहा जा सकता  है | इसी लिए उसे लोक से और लोक आंदोलनों से अपने सिंहासन  पर कोई असर समझ नहीं आता | उसे अंग्रेजी हुकूमत की तरह इस तरह के जन आंदोलनों को कुचलने में ही आनंद आता है | पर इस बार उसका दाव उलटा पड़ गया , आजादी के  अहिंसक आन्दोलन की तर्ज पर शुरू हुए अन्ना के इस आन्दोलन ने सरकार की नीव हिलाकर रख दी | रामदेव के आन्दोलन को कुचलने के बाद सत्ता के मद में चूर हो गई है  सरकार | यही कारण है की सरकार और कांग्रेस के परम ज्ञानी सलाहकारों ने जिन्हे आम जन से कभी कोई सरोकार ही नहीं रहा , ने अपनी ज्ञान की गठरी खोली और ऐसी -ऐसी नायब सलाह दी और दे रहे हें की सरकार की हालत देखते ही बनती है | जिसका परिणाम ये हुआ की देश की जनता ने देखा की ये कैसी सरकार है जो सामने -सामने कहती कुछ है और करती कुछ है | और बेशर्म इतनी की उसे अपने इस दोहरे चरित्र पर कोई शर्म भी नहीं है | अन्ना हजार…

khajuraho,

चित्र
योग के नाम पर ठगी  अभिषेक व्यास 
खजुराहो से अठारह किलो मीटर दूर ,जंगल में योग के नाम पर ठगी का एक शिविर चल रहा है | इस शिविर में १४५० यूरो डालर दीजिये , सिर्फ एक माह का प्रशिक्षण लीजिये और योग गुरु बन जाईये |है ना ये योग की माया  , रामदेव ने  देश विदेश में योग को इतना लोकप्रिय बना दिया की लोग अब इसका धंधा करने लगे हें |\  हालेंड की फर्म के इस शिविर के बारे में यहाँ के लोग और प्रशासन को भी जानकारी तब लगी जब यहाँ से भागी दो युवतियों ने पुलिस को शिकायत की | अब आप ही अंदाजा लगा सकते हें की देश की ख़ुफ़िया तंत्र और सुरक्षा तंत्र कितना चाक चोबंद है |                            हालेंड एल्स हार्म्सन और जर्मनी की इलका ब्रास्तीन ने इन्टरनेट परwww.arhantayoga.org बेव साईट देखी | इसमे उन्होने खजुराहो के पास गंगवाहा  गाँव में सुन्दर आश्रम देखा \ | जिसमे तस्वीरों के जरिये यहाँ की सुविधाओं का वर्णन किया गया था | इसके लिए उन्होने  नेट से ही अपना पंजीयन करा लिया और १४५० यूरो डालर जमा करा दिए | २५ जुलाई से शुरू हुए इस योग शिविर में शामिल होने ये दोनों भी आ गई | इन्ही के तरह यहाँ कुल २३ विदेशी  भी योग सीखने…

khajuraho

चित्र
खजुराहो   के बीजा मंडल मंदिर कि खुदाई में मिली १४ दुर्लभ मूर्तियाँ 

खजुराहो /रवीन्द्र व्यास /  खजुराहो के बीजामंडल मंदिर कि खुदाई  पिछले  एक दशक से चल रही है | शुरूआती खुदाई के बाद अब जब इसके कार्य में तेजी आई तो यहाँ दसवीं शताब्दी कि १४ दुर्लभ मूर्तियाँ  निकली |  अब इस मंदिर को दिसंबर ११ तक आकार मिलेगा | खजुराहो मिलेनियम के मौके पर इस मंदिर कि  को खोजा गया था |तब ये वायदा किया गया था कि खजुराहो में खोजे गए सभी १८ तिलों कि खुदाई कर दफ़न मंदिर खोजे जायेंगे ? तब से ए. एस. आई.  ये टीले मांग रही है और मध्य प्रदेश सरकार है की दे नहीं रही है |
 खजुराहो के इस बीजा मंडल कि खुदाई में पिछले दिनों  भगवान् विष्णु लक्ष्मी कि मानव रूप में गरुड़ पर सवार दुर्लभ प्रतिमा, के अलावा शिव , नंदी , नाग कन्या , सुर सुंदरी , कीचक , उमा महेश्वर , हाथी , और गज पट्ट मिले | यहाँ एक गज पट्ट पर ऊंट की प्रतिमा भी अंकित है | खजुराहो में ऊंट की मिली प्रतिमाओं में यह तीसरी प्रतिमा है | भारतीय पुरातत्व सरर्वेक्षण विभाग खजुराहो के  सहायक अधीक्षक राहुल तिवारी के अनुसार  यह दशवीं सदी का मंदिर है | जिसे  पूरा नहीं बनाया जा सक…

Khajuraho

चित्र
अब नहीं उतरेंगे खजुराहो में हवाई  जहाज 


रवीन्द्र व्यास  खजुराहो / में तेज गर्मी का कहर जारी है , सूरज कि तपन का असर ये हुआ कि यहाँ आने वाले बहुसंख्यक  देशी विदेशी पर्यटकों ने अब यहाँ इस मौसम में  आने से तौबा कर ली है | निजी कंपनियों ने तो पहले ही अपनी उड़ाने रद्द कर दी थी अब एयर इण्डिया  ने भी  ३० जून तक के लिए अपनी उड़ाने स्थगित कर दी हें |   खजुराहो में आने वाले देशी विदेशी पर्यटकों के आंकडे बताते हें कि जून कि तपन में यहाँ बा मुश्किल 50 ही विदेशी पर्यटक रोजाना आ रहे हें ,जब कि जनवरी और फरवरी में यहाँ 450से भी ज्यादा विदेशी पर्यटक रोजाना आते थे |  पिछले कुछ समय में यहाँ भारतीय पर्यटकों कि संख्या में भी काफी उछाल आया है , जनवरी 2011 में रोजाना लगभग एक हजार भारतीय पर्यटकों ने  काम कला के इन मंदिरों को देखा है |  माह              विदेशी              देशी              वर्ष 2010 में खजुराहो में 90721  विदेशी पर्यटक  januvary      12247             32682         आये जो अबतक का एक रिकोर्ड है , 234950भारतीय            Februvery    13610             22311         पर्यटकों  ने भी खजुराहो के मंदिरों…

baba

लोगों कि  नजर में राम देव  बाबा रामदेव के आंदोलन को पुलिस ने रातों-रात कुचल दिया और उनके समर्थकों पर लाठीचार्ज की। इस घटना पर लोग  भी हैरान हैं |नेता ,अभिनेता और जनता ने  सरकार की  आलोचना की है वहीँ कांग्रेस नेताओं ने बाबा पर लगाये आरोप ।

अनुपम खेर :  पुलिस जिस तरह से लोगों के साथ बर्ताव किया, वह शर्मनाक है। यह अन्यायपूर्ण और अलोकतांत्रिक है।

रवीना टंडनः देश हर व्यक्ति को विरोध करने का अधिकार है। याद रहे?

शेखर कपूर: रामलीला मैदान में चल रहे शांतिपूर्ण आंदोलन को सरकार ने सबसे बुरे हिंसक तरीके से कुचलने की कोशिश की है। उम्मीद है कि बाबा रामदेव के समर्थकों को यह अहसास होगा कि सरकार की हिंसा का सबसे तगड़ा जवाब शांतिपूर्ण प्रदर्शन है। अब वक्त इस सवाल को पूछने का है कि क्या सिस्टम लोगों के लिए काम करता है या फिर उस सरकार के लिए जो लोगों की उम्मीदों का प्रतिनिधित्व नहीं करती। पुलिस के ऐसा करने के पीछे क्या तर्क है? क्या यह फासिस्ट देश है? सांसदों ने संविधान के मुताबिक काम करने की सारी शपथ तोड़ दी हैं और इस तरह से देशद्रोह का काम किया है। उत्तर प्रदेश और छत्तीसगढ़ में भूमि-अधिग्रहण में जो कुछ हुआ…

Sarkaari Tantr

चित्र
जानवर बने अधिकारी 


मामला मध्य प्रदेश के पन्ना टाइगर रिजर्व एरिया का है | जहाँ 4/5/2011 पन्ना टाइगर रिजर्व के अधिकारियों और कर्मचारियों ने कुंजवन गाँव में आतंक का एसा नंगा नाच किया कि जिसे देख कर मानवता भी शर्म शार हो जाये | सरकारी वर्दी धारियों  का ये दस्ता गाँव के राकेश अधिकारी के घर में जबरन घुस गया | उस पर आरोप लगाया कि तुमने नील गाय का शिकार किया है |  इसके नाम पर सारे घर कि तलाशी लेने लगे , जब राकेश अधिकारी ,उनकी पत्नी सीमा  वा परिवार के लोगों ने विरोध किया तो  ये  लोग जानवर बन गए | इन लोगों ने ये भी नहीं देखा कि सीमा गर्भवती है , उसके पेट में लात मार दी| नतीजतन उसका गर्भ गिर गया  और दो जुडवा बच्चे  इस दानवी दुनिया को देखने के पहले ही दुनिया छोड़ कर चले गए |  इस मामले पर टाइगर रिजर्व के छेत्र संचालक  कृष्णा मूर्ति का कहना भी कम अमानवीय नहीं रहा < उनका ये कहना कि  राकेश अधिकारी के घर से नील गाय का पका हुआ गोस्त और चमड़ा जप्त हुआ है जिसका पी.ओ.आर.क्र.527/10 दिनांक 4/5/11 दर्ज किया गया है | उनका मानना है कि कुछ धक्का मुक्की के कारण राकेश कि पत्नी का अबोर्सन होने कि जानकारी मिली है …

Ram

चित्र
राम से बड़ा राम का नाम
रवीन्द्र व्यास
चैत्र शुक्ल नवमी का धार्मिक दृष्टि से विशेष महत्व है। आज ही के दिन तेत्रा युग में अयोध्या के रघुकुल शिरोमणि महाराज दशरथ एवं महारानी कौशल्या के यहाँ भगवान् श्री राम  ने पुत्र के रूप में जन्म लिया था। कहते हें की दिन के बारह बजे जैसे हीशंख , चक्र, गदा, पद्म धारण कि‌ए हु‌ए चतुर्भुजधारी श्रीराम प्रकट हु‌ए तो मानो माता कौशल्या उन्हें देखकर विस्मित हो ग‌ईं। उनके सौंदर्य व तेज को देखकर उनके नेत्र तृप्त नहीं हो रहे थे।श्रीराम के जन्मोत्सव में  देवता, ऋषि, किन्नार, चारण सभी  ने शामिल होकर आनंद उठाया था | वेशे तो अयोध्या सहित सारे देश में राम नवमी का ये त्यौहार परम्परागत ढंग से मनाया जाता है ,पर  बुंदेलखंड में  राम जन्मोत्सव एक अनोखे अंदाज में मनाया जाने लगा है | छतरपुर से शुरू हुई ये परम्परा अब सारे बुंदेलखंड इलाके में फ़ैल गई है | यहाँ एसा लगने लगता है की वास्तव में क्या भगवान् श्री राम फिर से जन्म ले रहे हें , उनके जन्म के बाद लोगों के उत्साह और उम्मंग को देखकर यही लगता है जेसे भगवान् ने ही अवतार ले लिया हो | सारा शहर  राममय हो जाता है | 
भगवान् श्री …

faag

चित्र
सिमित होते फाग के स्वर  रवीन्द्र व्यास 

जब मौसम में मादकता हो ,पलास फूला, हो आम बोराया हो और खेत पर गदराई फसल खडी  हो तब किसका मन मस्ती में नहीं डूबेगा | बुंदेलखंड की लोक परम्परा में फाग का अपना महत्व रहा है | कभी यह परम्परा बसंतोत्सव से शुरू हो जाती थी | बसंत के आगमन के साथ गाँव -गाँव में फाग के स्वर सुनाई देने लगते थे  जो बसंत पंचमी तक चलते रहते | अब ये सिर्फ होलिका दहन के आस पास तक सिमित हो कर रह गए हें | शुद्ध शात्रीय शैली की फागों का स्थान अब अश्लील फागों और फागों की सी.डी.ने ले लिया है |इस अंचल में बसंत पंचमी के साथ ही मस्ती का आलम शुरू हो जाता था , मस्ती के रस में सराबोर गाँव -गाँव में फागों की फड बाजी होती थी | जबाबी फागों की यह शैली अरसे से समाप्त हो चुकी है | गाँव की चौपालों पर नगड़िया -ढोलक ,झींका,मजीरा ,की लय पर फाग की तान अब कम सुनाई पड़ती है | बुन्देली लोक जीवन से जुडी फागों का अपना एक सम्रद्ध इतिहास है | फाग की वर्तमान परम्परा ईसुरी और गंगा धर व्यास की फागों तक सिमित सिमित हो कर रह गई हें | गाँव -गाँव में मूलतः ईसुरी रचित फागें ही गई जाती हें |ठेट- बुन्देली समरसता वा माधुर्…

nasha nasbandi kaa

"नसबंदी" करवाओ  मोटर साईकिल मुफ्त पाओ

मध्य प्रदेश में इन दिनों नशबंदी करवाने का अभियान चल रहा है |सरकार ने  इसे  महा अभियान बना दिया है और साफ़ चेतावनी दी है कि जिन जिलों में लक्ष्य  कि पूर्ति नहीं होगी वहाँ के सी.एम्.एच .ओ . और कलेक्टर दोनों को दोषी माना जाएगा | जब सरकार इनको दोषी मानेगी तो गाज भी इन पर गिरेगी | भला कोई भी समझदार व्यक्ति मलाईदार जिले के मुखिया का पद  छोड़ कर भोपाल के मुख्यालय में बैठना क्यों पसंद करेगा | सरकार कि इस चेतावनी के बाद अधिकारी  लोग बढ चढ़ कर भाग लें रहे हें | लोगों को तरह -तरह के ऑफर दिए जा रहे हें | कंही मोटर साईकिल  दी जा रही हे तो कहीं बंदूक के लाइसेंस , कहीं लक्ष्य पाने के लिए नपुंसकों और विधवाओं की भी नसबंदी की जा रही है भिखारियों तक को नहीं छोड़ा जा रहा है |
पन्ना कलेक्टर के.सी.जैन ने एक मार्च से ६ मार्च तक का मेगा नसबंदी अभियान शुरू किया है |इस अभियान में २५ से ज्यादा लोगों की नसबंदी कराने वाले को एक हीरो होंडा मोटर साईकिल ,२० के ऊपर वाले को एल.सी.डी. टी.वी.,दस से ज्यादा वाले को कलर टी.वी.,पांच से ज्यादा करवाने  वाले प्रेरक को प्रशस्ति पत्…

: humen story

त्रासदी
आयोग के निर्देशों को नाहीं मानती मध्य प्रदेश सरकार  रवीन्द्र व्यास 
 ७० साल का वृद्ध जगदीश साहू उन बदनसीबों में से एक है  जिसे अपने ही जवान बेटे की अर्थी को कंधा देने को मजबूर होना पडा था | पिछले  ६ साल  से वह अपने बेटे के हत्यारे पुलिस वालों को सजा दिलाने के लिए भटक रहा है | मध्य प्रदेश मानव अधिकार आयोग से मिला अधूरा न्याय  भी न्याय प्रिय  बी.जे.पी.सरकार की फाइलों में दफ़न हो कर रह गया है |  नोगांव  निवासी उमेश साहू को पुलिस ने ३ जून ०६ की सुबह उसके ही घर से पकड़ा था |उसे यह कह कर पुलिस लाइ थी की सी.एस.पी. साहब को कुछ पूछ तांछ  करनी है दो घंटे में छोड़ देंगे | तत्कालीन सी.एस.पी. प्रमोद सिन्हा की गाडी से उसे छतरपुर कोतवाली लाया गया |पुलिस ने मानवता की सारी हदें पार करते हुए  उसे जानवरों की तरह पीटा, उसके गुप्तांग में कोकोकोला की बोतल डाली गई , जब इससे भी वर्दी वालों को संतोष नहीं हुआ तो पेट्रोल डाला गया | ४ जून की रात  उसकी धर्मेंद्रा सोनी के साथ गाँजा रखने के आरोप में छतरपुर के कुंदन लोज के पास से  गिरफ्तारी दिखाई |  ५ जून को उसे न्यायालय में पेस कर जेल भेज दिया गया | जेल में उसका…

Dance Festival

चित्र
खजुराहो  की तीसरी शाम यास्मिन सिंह के नाम
संसार सारं सदा वसंतम
रवीन्द्र व्यास
खजुराहो डांस फेस्टिवल की तीसरी शाम  की शुरुआत प्रख्यात न्रत्यांगना लीना नंदा के ऑडसी नृत्य से हुई , पर इस शाम कत्थक
न्रत्यांगना यास्मिन सिंह वा आरती सिंह  की मनमोहक और भाव पूर्ण प्रस्तुति ने दर्शकों को अंत तक बांधे रखा | तीसरी और आखरी प्रस्तुति ज्योत्सना जगन्नाथन के भरतनाट्यम की हुई |
कथक  शास्त्रीय न्रत्य की ऐसी विधा है जिसमे  कथा के कथानक पर नृत्य की भाव पूर्ण प्रस्तुति दी जाती है | रायपुर से आई यास्मिन सिंह ,और आरती सिंह के ग्रुप ने  ये प्रस्तुतियां  दी | जिसमे अनादी अनंत प्रभु की लीलाओं को विशुद्ध गीत की बंदिशों के साथ पेश किया | राजगढ़  घराने की कत्थक
न्रत्यांगना  यास्मिन सिंह वा आरती सिंह ने शिव आराधना के साथ नृत्य पेश किया | ठाट ,सवाल जबाब ,ठुमरी ,मध्यलय, गंगा अवतरण , आदि की प्रस्तुतियां दी | उन्होने द्रोपदी के चीर हरण के प्रसंग की प्रस्तुति दे कर दर्शकों को वाह वाह कहने पर मजबूर कर दिया|
घोडे की चाल ,हिरन की चाल , के बाद  गत निकाश की प्रस्तुति दी , जिसमे उन्होने श्री कृष्ण की गत ,मयूर की गत की कैसे …

( khajuraho Dance)

चित्र
खजुराहो नृत्य समारोह
मेरा सपना था इस मंच पर प्रस्तुति देने का *= हेमा मालिनी रवीन्द्र व्यास खजुराहो में शास्त्रीय न्रत्यो के सात दिवसीय   महा कुम्भ में नृत्य समारोह का आगाज मंगलवार की शाम फिल्म अभिनेत्री हेमामलनी और उनकी बेटिया ईसा व आहना देवल के ओडिसी नृत्य के साथ हुआ ,| छत्तीसवे अंतर्राष्टीय नृत्य उत्सव का शुभारम्भ मध्य प्रदेश सरकार के संस्कृति मंत्री लक्ष्मी कान्त शर्मा ने द्वीप प्रज्जलित कर किया
इस  विश्व प्रसिद्ध पर्यटन नगरी में कला और संस्कृति को नया आयाम देने के लिए खजुराहो नृत्य समारोह का आयोजन किया जाता है|  देश के कोने - कोने से आये कलाकार अपनी नृत्य कला को प्रस्तुत कर अपने जीवन को धन्य बनाते है , उन्ही कलाकारों में से एक है फिल्म अभिनेत्री हेमामालनी जिन्होने  अपने  नृत्य साधना के इतिहास में खजुराहो के इस मुक्ताकाशी मंच पर पहली बार कला का जोहर अपनी दोनों बेटियों के साथ दिखाया | और स्वीकारा की  खजुराहो नृत्य समारोह प्राचीन काल से चला आ रहा है ,अभी तक अच्छी  तरह से कायम  रखा हुआ है , इस नृत्य समारोह में भाग लेना ही गर्व की बात है  बहुत ही सुन्दर सा अहशास होता है , कई नर्र्त्य…

Ken Betva Link Project

चित्र
विकाश की स्लेट पर विनाश की तस्वीर नहीं बनने देंगे जय राम रमेशरवीन्द्र व्यास 
शनि वार १६ अप्रैल ११ को केंद्रीय मंत्री जयरामरमेश क्या आये एक नईउम्मीद लोगों में जाग गई |- केन बेतवा लिंक परियोजना पर कई सालों से चर्चा चल रही है मेने खुद सलमान खुर्सिद  जो सिचाई मंत्री हें  से चर्चा कि है ,मेने पी.एम्.. को पत्र लिखा है कि अगर ये केन बेतवा लिंक बनेगा तो ये सारा पन्ना टाइगर रिजर्व ख़त्म हो जाएगा , करीब ६० वर्ग कि.मी.एरिया जो शेरों के रहवास छेत्र का प्रमुख स्थान है  इसका सत्यानाश हो जाएगा , केन बेतवा लिंक परियोजना से पन्ना टाइगर रिजर्व को ख़तरा है हमारा मंत्रालय तो इसकी इज्जाजत  नहीं देगा | ये कहना है देश के पर्यावरण एवं वन राज्य मंत्री जय राम रमेश का | वे पन्ना टाइगर रिजर्व को देखने आये थे | उनके इस बयान के आते ही बी.जे.पी. सांसद जीतेन्द्र सिंह बुन्देला के नेतृत्व में बीजेपी.नेता  खजुराहो विमान तल पर  मंत्री से मिले | जय राम रमेश ने साफ़ शब्दों में कहा की ये इसी योजना है जिससे  पार्क का तीस फीसदी हिस्सा नस्ट हो जाएगा , में जानता हूँ की  हमारी पार्टी के कई नेता इस योजना को चाहते हें पर यह योजना …